विकास गतिविधियां

जिले में अनुकूल निवेश के अवसरों के सृजन के लिए कार्य योजना

 

पाली जिले में कपडा, प्लास्टिक कंगन, छाता, कृषि औजार, खाद्य तेल एवं दाल, चुना, सीमेंट, मेहंदी, इलेक्ट्रिक वायर, एलुमिनियम फोइल्स, तकनीकी मशीन एवं उपकरण, स्टील फर्नीचर आदि के उद्योग उपस्थित है जिनकी देश में अलग पहचान है|

खनिज संसाधन

पाली जिले में खनिज सम्बन्धित उद्योग भी स्थापित है| जिनमे जैतारण तहसील के राबरियावास गाँव में अंबुजा सीमेंट और रास गाँव में बांगर सीमेंट के उद्योग है| जिले में हाइड्रेटेड लाइम, लाइम किल्न्स, ग्रेनाइट स्टोन कटाई और पोलिशिंग, चीनी मिटटी आदि के उद्योग भी स्थापित है|

 

मेहंदी

सोजत की मेहंदी की मेहंदी उद्योग और आयुर्वेद के लिए राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय बाजार में अत्यधिक मांग है| इन उत्पादों ने देश में अपनी छाप छोड़ी है और विदेशों में निर्यात किया जा रहा है|

 

जिले में आठ बड़े पैमाने और मध्यम उद्योग स्थापित है| जिले की 5 इंडस्ट्रीज अपने उत्पाद कई देशो में निर्यात करती है| जिले से जिन उत्पादों का निर्यात किया जाता है उनमे छाता के घटक और पार्ट्स, एलुमिनियम फोइल, कपास यार्ड, ग्वार गम पाउडर, मेहंदी आदि मुख्य है|

 

वर्ष 2014-15 में 405 व्यवसायी ज्ञापन पार्ट – 2 जारी हुए है| जिसमें पूंजी निवेश रुपये 8278.20 लाख है और 2693 के लिए रोजगार के सृजन के लक्ष्य को हासिल किया गया है| वर्तमान में व्यवसायी ज्ञापन पार्ट – 1 एवं 2 के लिए ऑनलाइन सुविधा उपलब्ध है| जिसके लिए www.msme.gov.in वेबसाइट के द्वारा ऑनलाइन अप्लाई कर सकते है|

 

पाली जिले में 16 इंडस्ट्रियल क्षेत्र है जिनमे पाली, सोजत, सुमेरपुर, फालना, मारवाड़ जंक्शन , रानी, पिपलिया कलां, राबडियावास और सरधना है|